सोने की बढ़ती चमक

सन्दर्भ भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्वर्ण उपभोक्ता देश है और अपनी लगभग पूरी स्वर्ण माँग आयात के जरिए पूरी करता है। ऐसे में सोने के आयात में कमी अर्थव्यवस्था के लिए लाभप्रद है। आर्थिक सुस्ती के वर्तमान दौर Read More …

आर्थिक सुस्ती तोड़ने का सही उपाय

सन्दर्भ अब यह मानने में कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि देश आर्थिक सुस्ती के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में एक प्रश्न यह भी खड़ा होता है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है? वित्त मंत्रालय में मुख्य Read More …

परचेजिंग पावर बढ़ाने से ही बनेगी बात

सन्दर्भ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल में बड़ी कंपनियों द्वारा अदा किए जाने वाले कॉरपोरेट टैक्स की दरों में भारी कटौती की है। अब तक यह दर 30 प्रतिशत से अधिक थी, जिसे घटा कर 25 प्रतिशत कर दिया Read More …

आम बजट और वृहद आर्थिक चुनौतियां

सन्दर्भ गत माह मैंने अपने स्तंभ में इस बात को रेखांकित किया था कि देश के वृहद आर्थिक प्रदर्शन के लगभग सभी प्रमुख संकेतकों (वृद्धि, निवेश, रोजगार, मुद्रास्फीति, बाह्य संतुलन और राजकोषीय स्थिति) पर रुझान नकारात्मक ही हैं। मैंने सुझाव Read More …

विलय और विनिवेश की राह पर नई सरकार

सन्दर्भ : वर्ष 2017 में भारतीय स्टेट बैंक के साथ उसके पांच सहायक बैंकों और एक महिला बैंक का विलय किया गया। फिर एक अप्रैल 2019 को बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ देना बैंक और विजया बैंक का विलय किया Read More …