Mains general studies

मुख्य परीक्षा सामान्य अध्ययन के बारे में

वर्तमान में सामान्य अध्ययन सिविल सेवा परीक्षा हेतु सर्वाधिक महत्वपूर्ण विषय है जो इस परीक्षा के तीनों स्तरों में निर्णायक भूमिका निभाता है। सिविल सेवा प्रारम्भिक परीक्षा में एक प्रश्न-पत्र के रूप में इसकी उपयोगिता सर्वविदित है और मुख्य परीक्षा में चार प्रश्न-पत्रों के साथ यह और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। साथ ही, साक्षात्कार में पूछे जाने वाले अधिकांश प्रश्न भी सामान्य जागरूकता पर आधरित होते हैं जिन्हें हम सामान्य अध्ययन में लगातार पढ़ते रहते हैं। वर्ष 2013 में संघ लोक सेवा आयोग द्वारा सामान्य अध्ययन के पाठ्यक्रम में किए गए नवीन परिवर्तनों के सन्दर्भ में सिविल सेवा परीक्षा की सफलता में सामान्य अध्ययन की भूमिका निर्णायक हो गयी है। नवीन बदलाव के बाद मुख्य परीक्षा हेतु सामान्य अध्ययन के 250-250 अंकों के कुल 4 प्रश्न-पत्र शामिल किए गए हैं। सामान्य अध्ययन के प्रश्न-पत्र-I, II, और III में थोड़े-बहुत परिवर्तन कर भारतीय समाज, सामाजिक न्याय, सुरक्षा तथा आपदा प्रबंधन जैसे कुछ नवीन विषय-वस्तु को शामिल कर मूल रूप से पूर्व के पाठ्यक्रम को ही जारी रखा गया है, वहीं प्रश्न-पत्र IV में नीतिशास्त्र, सत्यनिष्ठा और अभिरूचि का एक नवीन प्रश्न-पत्र इस वर्ष से शामिल किया गया है।