CROSPC ने ‘मिड मानसून-2019 लाइटनिंग’ नामक रिपोर्ट जारी की

हाल ही में Climate Resilient Observing Systems Promotion Council (CROSPC) ने ‘मिड मानसून-2019 लाइटनिंग’ नामक रिपोर्ट जारी की है। Climate Resilient Observing Systems Promotion Council (CROSPC) भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की एक अनुसन्धान संस्था है। इस रिपोर्ट में आसमानी बिजली की घटनाओं को कवर किया गया है, यह भारत में इस प्रकार की पहली रिपोर्ट है। इस रिपोर्ट के मुताबिक अप्रैल से जुलाई के बीच देश में ओडिशा में सर्वाधिक आसमानी बिजली गिरने की घटनाएं सामने आई हैं। इस रिपोर्ट में महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर जबकि कर्नाटक तीसरे स्थान पर है। आसमानी बिजली गिरने के कारण देश में कुल 1,311 मौते हुई हैं, इसमें उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक 224 मौतें हुई हैं।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अंतर्गत भारत सरकार के मौसम विज्ञान प्रक्षेण, मौसम पूर्वानुमान और भूकम्प विज्ञान का कार्यभार सँभालने वाली भारतीय मौसम विज्ञान विभाग एक सरकारी एजेंसी है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। भारत से लेकर अंटार्कटिका भर में सैकड़ों प्रक्षेण स्टेशन भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के द्वारा वर्त्तमान में चलाये जाते हैं।