Civil Services Examination Eligibility

सिविल सेवा परीक्षा

सिविल सेवा परीक्षा भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS), भारतीय विदेश सेवा (IFS), भारतीय राजस्व सेवा (IRS), भारतीय रेलवे यातायात सेवा (IRTS) आदि जैसी महत्वपूर्ण सेवाओं हेतु अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित की जाने वाली एक प्रमुख परीक्षा है जिसका आयोजन प्रत्येक वर्ष संघ लोक सेवा आयोग द्वारा किया जाता है। प्रत्येक वर्ष लाखों अभ्यर्थी अपना भाग्य आजमाने के लिए इस परीक्षा में बैठते हैं तथापि उनमें से कुछेक अभ्यर्थी ही अंतिम रूप से चयनित होने का सौभाग्य प्राप्त कर पाते हैं।

अर्हता मानदण्ड

शैक्षिक योग्यता:  स्नातक (सभी श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए)

आयु: सामान्य श्रेणी – 21 वर्ष से 32 वर्ष (4 अवसर); अन्य पिछड़ा वर्ग – 21 वर्ष से 35 वर्ष (7 अवसर); अनु. जाति एवं जनजाति – 21 वर्ष से 37 वर्ष (असीमित अवसर); शारीरिक रूप से विकलांग – 21 वर्ष से 40 वर्ष (श्रेणी के अनुरूप)

परीक्षा के प्रारूप

संघ लोक सेवा आयोग प्रतिवर्ष सामान्यतः दिसम्बर से फरवरी माह के बीच सिविल सेवा परीक्षा हेतु अधिसूचना जारी करती है। औसतन, प्रतिवर्ष लगभग चार से पांच लाख अभ्यर्थी इस परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं। इस परीक्षा का प्रारूप इस प्रकार है।

परीक्षा परीक्षा आयोजित होने का माह विषय (प्रश्न-पत्र) पूर्णांक
प्रारंभिक मई/जून सामान्य अध्ययन-I
सामान्य अध्ययन-I
200
200(केवल उत्तीर्ण होना आवश्यक)
मुख्य नवम्बर/दिसम्बर सामान्य अध्ययन-I
सामान्य अध्ययन-I
सामान्य अध्ययन-III
सामान्य अध्ययन-IV
250
250
250
250
वैकल्पिक विषय प्रश्नपत्र – I
वैकल्पिक विषय प्रश्नपत्र – II
250
250
निबंध
अनिवार्य: अंग्रेजी
अनिवार्य: भारतीय भाषा
250
300 (केवल उत्तीर्ण होना आवश्यक)
300 (केवल उत्तीर्ण होना आवश्यक)
साक्षात्कार मार्च/अप्रैल व्यक्तिगत साक्षात्कार 275
कुल – 2025

NOTE 1.प्रारम्भिक परीक्षा के अंकों को मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार के लिए निर्धरित अंकों में शामिल नहीं किया जाता है।

NOTE 2.अनिवार्य अंग्रेजी तथा भारतीय भाषा के अंकों को भी मुख्य परीक्षा के कुल अंको में जोड़ा नहीं जाता है। विदित है कि अभ्यर्थी द्वारा मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार में प्राप्त किए गए अंकों वेफ आधर पर ही अंतिम चयन होता है।