वार्षिक शिक्षण रिफ्रेशर कार्यक्रम (ARPIT)

वार्षिक शिक्षण रिफ्रेशर कार्यक्रम (ARPIT)

चर्चा में क्यों ?

भारत सरकार ने उच्चतर शिक्षा में कार्यरत शिक्षकों के लिए वार्षिक शिक्षण रिफ्रेशर कार्यक्रम (ARPIT) का अनावरण किया है.

ARPIT क्या है?

वार्षिक शिक्षण रिफ्रेशर कार्यक्रम (ARPIT) एक बड़ा और अनूठा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से उच्चतर शिक्षा से जुड़े हुए 15 लाख शिक्षकों को ऑनलाइन पेशेवर विकास का अवसर दिया जाएगा. यह प्रशिक्षण MOOCs के SWAYAM नामक मंच  से दिया जाएगा. MOOCs का full form है – Massive Open Online Courses.

  • अर्पित कार्यक्रम के कार्यान्वयन के लिए प्रथम चरण में 75 विशेष डिसिप्लीन वाले संस्थानों का चयन कर लिया गया है और उन्हें संसाधन केन्द्रों (National Resource Centres -NRCs) के रूप में अधिसूचित भी कर दिया गया है. ये केंद्र ऑनलाइन प्रशिक्षण की सामग्री तैयार करेंगे. इस सामग्री में जिन विषयों पर ध्यान दिया जाएगा, वे हैं – सम्बन्धित डिसिप्लीन से सम्बन्धित नवीनतम जानकारियाँ, नए-नए एवं उभरते हुए रुझान, प्रशिक्षण पद्धति में होने वाले सुधार और संशोधित पाठ्यक्रम को लागू करने वाली प्रणालियाँ.
  • अर्पित कार्यक्रम एक सदैव चलने वाला कार्यक्रम होगा जिससे कि प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय संसाधन केंद्र, विशेष रूप से चयन की गई डिसिप्लीन में, प्रत्येक वर्ष लगातार नए रिफ्रेशर पाठ्यक्रम तैयार करते रहें. केंद्र द्वारा तैयार की गई प्रशिक्षण सामग्रियाँ SWAYAM पर अपलोड की जाएँगी. NRCs उन शिक्षकों की सूची भी प्रकाशित करेगी जिन्हें इस प्रशिक्षण को पूरा करने का प्रमाणपत्र दिया गया है. इस प्रकार NRCs शिक्षकों के पेशेवर विकास की प्रक्रिया में क्रान्ति ला देंगे.
  • NRCs नाना प्रकार के संस्थानों में स्थापित किये गये हैं, जैसे – केन्द्रीय विश्वविद्यालय, भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), IUCAA, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), IISER, राष्ट्रीय तकनीक संस्थान (NIT), पंडित मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक एवं प्रशिक्षण मिशन (PMMMNMTT) के अंतर्गत आने वाले राज्य विश्वविद्यालय, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग UGC) के मानव संसाधन विकास केंद्र (HRDC), राष्ट्रीय तकनीकी शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान (NITTTR), IIIT.

#ARPIT

#DikshantIAS #IAS #UPSC #IAS_Prelims #IAS_Mains #IASExam #CurrentNews #News #NewsAnalysis