ऐश्वर्या पिस्सी ने मोटर स्पोर्ट्स में विश्व कप खिताब जीतने वाली बनी पहली भारतीय महिला

ऐश्वर्या पिस्सी मोटर स्पोर्ट्स में विश्व कप खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं। उन्होंने हंगरी में वार्पा लोता में फेडरेशन इंटरनेशनल द मोटरसाइकिल महिला चैम्पियनशिप का फाइनल जीता। वे जूनियर वर्ग में दूसरे स्थान पर रही।

ऐश्वर्या पिस्सी दुबई में पहला दौर जीतने के बाद पुर्तगाल में तीसरा, स्पेन में पांचवां और हंगरी में चौथा स्थान हासिल किया। वे इससे 65 अंकों के साथ शीर्ष पर रही। एश्वर्या ने चैंपियनशिप के अंतिम दौर में बाद एफआईएम विश्व कप की ट्रॉफी पर कब्जा किया।

एफआईएम विश्व कप में पुर्तगाल की रिटा विएरा 61 अंको के साथ दूसरे स्थान और चिली की थामस डि 60 अंको के साथ तीसरे स्थान पर रही। इस इवेंट का आयोजन अंतरराष्‍ट्रीय मोटरसाइकिलिंग संघ ने किया था, जो विश्‍व में मोटरसाइकिल रेसिंग की शासकीय ईकाई है।

ऐश्वर्या पिस्सी ने कहा कि यह मेरी जिंदगी का सबसे कठिन दौर है। लेकिन मुझे अपने पर विश्वास था और मैं छह महीने के बाद बाइक पर वापसी करने को लेकर प्रतिबद्ध थी। इसलिए विश्व कप जीतना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है। यहां मिले अनुभव से मैं अपने प्रदर्शन को और बेहतर करने की कोशिश करूंगी।

एश्वर्या पिस्सी का 2017 में हुआ था बड़ा हादसा

ऐश्वर्या पिस्सी के दो बड़े दुर्घटना हो चुके हैं। ऐश्वर्या साल 2017 में गिर गई थी, जिससे उनका कॉलर बोन फ्रैक्चर हो गया था। उनकी सर्जरी हुई और वे लगभग दो माह तक अस्पताल में रहीं। डॉक्टर्स ने ऐश्वर्या के कॉलर बोन को जोड़ने के लिए स्टील की प्लेट तथा सात स्क्रू लगाए थे।

ऐश्वर्या पिस्सी के बारे में:

ऐश्वर्या पिस्सी बेंगलुरू की रहने वाली है। ऐश्वर्या साल 2018 में थकाऊ बाजा एरागोन रैली में हिस्सा लेने वाली पहली भारतीय महिला राइडर बनी थीं।

ऐश्वर्या पांच साल पहले बाइकिंग शुरू करने वाली पांच राष्‍ट्रीय सड़क रेसिंग और रैली चैंपियनशिप खिताब जीने वाली भी पहली भारतीय महिला हैं। उन्होंने साल 2015 में कोयंबटूर में एपेक्‍स रेसिंग एकेडमी में ट्रेनिंग शुरू की थी।